नेतृत्व
श्री जी वी एस भास्कर
मुख्य कार्यपालक अधिकारी (हेलिकॉप्टर कांप्लेक्स)
श्री जी वी एस भास्कर
श्री गरीमेला वेंकट सत्य भास्कर (जी वी एस भास्कर) का जन्म 18 सितंबर, 1960 को आंध्रप्रदेश राज्य में विजयनगरम में हुआ था । इन्होंने इंडियन इंस्टीट्यूट ऑफ साइंस, बैंगलोर से मास्टर ऑफ इंजीनियरिंग और रीजनल इंजीनियरिंग कॉलेज, वारंगल से बी टेक प्राप्त किए । इन्होंने अगस्त 1984 में एचएएल में कार्यभार ग्रहण किए और एयरोनॉटिकल इंजीनियर के रूप में पूर्ववर्ती हेलीकॉप्टर डिजाइन ब्यूरो (एचडीबी) में अपना करियर शुरू किए जो अब रोटरी विंग रिसर्च एंड डिज़ाइन सेंटर (आरडब्ल्यूआरडीसी) के रूप में जाना जाता है।

तकनीकी और प्रबंधन कार्यपालक के रूप में, इनके पास एरोनॉटिकल फील्ड के विभिन्न स्पेक्ट्रम में 33 वर्ष का अनुभव है। इनके पास प्रबंधन कौशल के अलावा कार्यपरक और तकनीकी नेतृत्व कौशन है। इन्होंने 2011 में एजीएम एएलएच फ्लाइट हैंगर के रूप में हेलीकॉप्टर डिवीजन में कार्यभार ग्रहण करने से पूर्व, अपर महामहाप्रबंधक पद पर आरडब्ल्यूआरडीसी में डिजाइन, विकास और प्रोटोटाइप निर्माण के क्षेत्रों में कार्य किया । इसके उपरांत, इन्होंने हेलीकॉप्टर विनिर्माण प्रभाग से सितंबर 2015 में महाप्रबंधक के रूप में  हेलिकॉप्टर एमआरओ प्रभाग प्रमुख रूप में स्थानांतरित हुए । इन्होंने 01 अक्टूबर, 2017 से मुख्य कार्यपालक अधिकारी (सीईओ) के रूप में हेलीकॉप्टर कॉम्प्लेक्स का कार्यभार संभाला ।

श्री भास्कर के पास रोटरी विंग विमान से जुड़ी सभी कार्य क्षेत्र का अनुभव है जैसे डिजाइन और विकास, प्रोटोटाइप निर्माण, शॉप फ्लोर प्रबंधन, परियोजना प्रबंधन, विनिर्माण इंजीनियरिंग, उत्पादन योजना और नियंत्रण, सुविधा प्रबंधन और रखरखाव, मरम्मत और ओवरहाल।

बैंगलोर के रोटरी विंग रिसर्च एंड डिज़ाइन सेंटर में अपने कार्यकाल के दौरान, वे मैकेनिकल सिस्टम के प्रोटोटाइप विकास / निर्माण असेंबली एवं परीक्षण के लिए जिम्मेदार / शामिल थे ।
   
हेलीकॉप्टर एमआरओ डिवीजन के महाप्रबंधक होने के नाते, वे भारत और विदेशों में एएलएच बेड़ों के रखरखाव मरम्मत और ओवरहाल के लिए जिम्मेदार थे। अपने कार्यकाल के दौरान, इन्होंने भारतीय सशस्त्र बलों द्वारा प्रचालित एएलएच बेड़े की सेवायोग्यता में निरंतर वृद्धि में अपना योगदान दिया । हेलीकॉप्टरों के डिजाइन, विकास, निर्माण और उत्पादन में इनके व्यापक ज्ञान से ग्राहकों की आवश्यकताओं को समझने में तथा ग्राहकों की संतुष्टि के लिए त्वरित समाधान के लिए सहायता मिली है।