नेतृत्व
श्री शेखर श्रीवास्तव
मुख्य कार्यपालक अधिकारी (बेंगलूर कांप्लेक्स)
श्री शेखर श्रीवास्तव
श्री शेखर श्रीवास्तव वर्तमान में बैंगलोर कांप्लेक्स के मुख्य कार्यकारी अधिकारी के पद पर कार्यरत हैं । 01 अप्रैल 2015 से एचएएल बोर्ड के पुनर्गठन के बाद, बैंगलोर कॉम्प्लेक्स के प्रबंध निदेशक पद को मुख्य कार्यपालक अधिकारी के रूप में पुनर्नामित किया गया है।

बैंगलोर कॉम्प्लेक्स में 10 डिवीजन शामिल हैं, जो भारतीय रक्षा बलों, अंतरिक्ष कार्यक्रमों और निर्यात ग्राहकों की आवश्यकता को पूरा करने के लिए विमान और इंजन के उत्पादन, मरम्मत और ओवरहाल, एयरोस्पेस संरचनाओं, कास्टिंग और फोर्जिंग का उत्पादन आदि कार्यों में शामिल है । वर्तमान में बैंगलोर कॉम्प्लेक्स में महत्वपूर्ण कार्यक्रमों के अंतर्गत हॉक एमके 132, एलसीए तेजस उत्पादन, मिराज और जगुआर ड्र्रेन-III अपग्रेड प्रोग्राम आदि प्रगति पर हैं।

श्री शेखर श्रीवास्तव भागलपुर कॉलेज ऑफ इंजीनियरिंग, भागलपुर से मैकेनिकल इंजीनियरिंग में स्नातक हैं और एयरक्राफ्ट प्रोडक्शन इंजीनियरिंग में आईआईटी चेन्नई से मास्टर डिग्री प्राप्त किए । इन्होंने 1983 में प्रबंधन प्रशिक्षु (तकनीकी) के रूप में हिंदुस्तान एयरोनॉटिक्स लिमिटेड में कार्यभार ग्रहण किए ।

एचएएल में 34 वर्षों के अपने करियर के दौरान, उन्होंने लखनऊ डिवीजन, एक्सेसरीज़ कॉम्प्लेक्स, कॉरपोरेट ऑफिस, बैंगलोर कॉम्प्लेक्स के एयरक्राफ्ट डिवीजन और एयरोस्पेस डिवीजन में कार्य किया है। इनके पास एचएएल के विभिन्न विभागों जैसे योजना और परियोजनाओं, ग्राहक सेवा, विपणन, गुणवत्ता नियंत्रण, विनिर्माण, बाह्यस्रोत, असेंबली शॉप, असेंबली और विनिर्माण निरीक्षण में का्र्य करने का अनुभव है।

श्री श्रीवास्तव ने परियोजना प्रबंधक के रूप में हॉक एमके 132 एजेटी परियोजना और एमएमआरसीए कार्यक्रम का नेतृत्व किया, जिसमें अन्होंने परियोजना प्रबंधन अवधारणाओं को सफलतापूर्वक कार्यान्वित किया।

अपने वर्तमान पोस्टिंग से पहले, इन्होंने एयरोस्पेस डिवीजन, बैंगलोर कॉम्प्लेक्स के प्रमुख के रूप में कार्य किए ।  अपने कार्यकाल के दौरान एयरोस्पेस डिवीजन ने निष्पादन में महत्वपूर्ण सुधार प्राप्त किया।

इनके पास भारतीय वायु सेना, भारतीय नौसेना, रक्षा मंत्रालय और कई विदेशी ग्राहकों जैसे विभिन्न हितधारकों एवं ग्राहकों के साथ पारस्परिक चर्चा से जुड़े जटिल परियोजनाओं को संभालने का व्यापक अनुभव है। इनके पास कारोबार इकाई के लगभग सभी विभागों में कार्य करने का अनुभव है।