एरोस्‍पेस प्रभाग बेंगलूर
एरोस्पेसएरोस्पेस प्रभाग एलुमिनियम मिश्र धातु की कीलक संरचनाओं और शंकु, बेलनाकार और अन्य आकारों के वेल्डेड
टैंकेज के निर्माण और साथ ही विभिन्न प्रकार के पुर्जों जैसे कि धातु चादरों, वलयों, ब्रैकेटों,दृढ़कारियों, प्रतिधारक
रचनाओं, फलक बोल्ट, नट, कीलकों आदि के निर्माण में संलग्न हैं। उपग्रहों मे उपयोग किए जाने वाले ऊष्मा
परिरक्षक समन्वायोजन, अग्रशंकु समन्वायोजन,टंकी और परिवेष्टन, प्रभाग द्वारा निर्मित महत्वपूर्ण संरचनाओं में से हैं।
 
एरोस्पेस प्रभाग के उत्पाद

पीएसएलवी: (ध्रुवीय उपग्रह प्रक्षेपण यान)
चरणों की संख्या
6 स्ट्रैप-ऑन मोटर्स के साथ दो ठोस और दो तरल चरणों सहित 4-स्टेज रॉकेट
 
कक्षा
निम्न भू ध्रुवीय कक्षा 900 किमी
मिशन
ध्रुवीय कक्षा में 1000-1200 किलो श्रेणी उपग्रह (आईआरएस) का अन्तःक्षेप              
जीएसएलवी: (भू भू समकालिक प्रक्षेपण यान) मार्क II
चरणों की संख्या
4 स्ट्रैप-ऑन मोटर्स के साथ ठोस, तरल और क्रायो चरणों के साथ 3-स्टेज रॉकेट
 
कक्षा
भू-स्थैतिक कक्षा 36000 किमी
 
मिशन
भू-समकालिक कक्षा में 2500 किलो उपग्रह इनसैट श्रृंखला उपग्रह का अन्तःक्षेप
     
     
जीएसएलवी: (भू समकालिक उपग्रह प्रक्षेपण यान) मार्क III
चरणों की संख्या
लिक्विड और क्रायो चरणों और 2 स्ट्रैप-ऑन मोटर्स के साथ 2-चरण
कक्षा
 
भू समकालिक कक्षा 36000 किमी
 
मिशन
भू समकालिक कक्षा में 4500 - 5000 किलो इनसैट श्रेणी उपग्रह का अन्तःक्षेपण
     
भारतीय दूरसंवेदी उपग्रह
मिशन
संसाधन सर्वेक्षण और कृषि, वानिकी, जल विज्ञान और बर्फ पिघलने के क्षेत्र में प्रबंधन।
 
प्रक्षेपण यान
पीएसएलवी                                                       
 
कक्षा
निम्न भू ध्रुवीय कक्षा 900 किमी
कार्यकाल
5 वर्ष
भारतीय राष्ट्रीय उपग्रह
मिशन
राष्ट्रीय दूरसंचार, टीवी प्रसारण, रेडियो नेट वर्किंग, मौसम संबंधी निरीक्षण उपग्रह सहायता अनुसंधान और बचाव
प्रक्षेपण यान
जीएसएलवी
कक्षा
भू-स्थैतिक कक्षा 36000 किमी
कार्यकाल
7 वर्ष